Home Blog

सोशल मीडिया पर वायरल चुकी हैं ‘गंदी बात’ की ये एक्ट्रेस

0

वेब सीरीज गंदी बात 2 से पॉपुलर हुईं एक्ट्रेस अन्वेषी जैन सोशल मीडिया पर वायरल चुकी हैं, अन्वेषी का इंस्टाग्राम अकाउंट उनकी बोल्ड तस्वीरों से भरी पड़ी हैं। लोग अन्वेषी की अदाओं के इस कदर दीवाने हो गए हैं कि उन्होंने सोशल मीडिया पर उनके नाम से कई फैन पेजेस बना दिए हैं। एक्टिंग से पहले अन्वेषी कई कॉपोर्रेट इवेंट्स, वेडिंग्स, कैम्पस इवेंट्स, चैरिटी इवेंट्स, प्राइवेट पार्टीज में होस्ट के रूप में नजर आ चुकी हैं।

अन्वेषी को एकता कपूर की वेब सीरीज गंदी बात 2 से बड़ी पहचन मिली। वेब सीरीज में उन्होंने कई बोल्ड सीन्स दिए थे, जिसके बाद लोगों ने उन्हे गूगल पर सर्च करना शुरू कर दिया। वह देखते ही देखते इंटरनेट सेंसेशन बन गईं। वह अक्सर इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी तस्वीरें शेयर करती रहती हैं, जिन्हें वायरल होने में जरा सा भी समय नहीं लगता है।

तस्वीरें देखें

View this post on Instagram

शॉट by -@vps.pixels

A post shared by Anveshi Jain (@anveshi25) on

बता दें कि अन्वेषी रिएलिटी शो बिग बॉस 13 का भी हिस्सा बनने वाली थीं, लेकिन ऐसा नहीं हो सका।

अगले पेज पर सबसे बोल्ड तस्बीर

अगर आपका मन भी पढाई मे नही लगता, तो ये कुछ जबरजस्त मूल मंत्र कर सकते है आपकी मदद।

0

1.टाइम टेबल (Time Table) बनाये पढने के लिए।
Mind Concentration बढ़ाने और अपनी पढ़ाई में मन लगाने के लिए सबसे पहले आप अपना study schedule बनाये। तय करे आपको एक week में किस subject को कोन से दिन और कितने time के लिए पढ़ना है। Study Time Table बनाने के बाद पढ़ाई को लेकर आपकी Confusion दूर हो जाएगी। जिससे आप stressed free feel करेंगे और अच्छे से पढ़ पाएंगे।
>पढ़ाई को Regular Activity से अलग ना समझें।
>पढ़ाई करने के लिए हमेशा उत्साहित(Motivate) रहे।
2. पढ़ाई करने के लिए सही जगह चुनें।
>एक ऐसा जगह ढूंढें जहा पर शांत वातावरण हो।
>ज्यादा गर्मी या ज्यादा ठंड ना हो।
>बैठने के लिए एक अच्छा Chair और Table रखें।
>किताबों को अच्छे से रखने की सुविधा हो।
>कुछ लोग पढ़ाई करते समय गाना सुनते हैं तो गाने को उतना ही सुने जिससे की आपका मन विचलित ना हो।
>जिस कमरे में आप पढ़ाई करे उसके बाहर “Do Not Disturb” का बोर्ड लगायें।
3. एक Study Partner बनायेे।
अगर आपको कोई subject ज्यादा bore करता है, तो एक ऐसे partner की तलाश करे जो उस subject में intreste रखता हो। इससे होगा यह वो अपने revision के लिए आपको सीखाने से हिचकेगा नही और बड़े ही intreste के साथ आपको उस subject की बारीकियां भी समझा देगा।
ग्रुप स्टडी करने के फायदे :
>पढ़ते वक्त कभी बोर नहीं होगे
>जल्दी समझ में आएगा
>प्रॉब्लम शेयर और डिसकस(discuss) कर सकते हो
4. हमेसा नोट्स बनाके पढ़े।
जब भी आप पढने बैठे तो याद रखे जो भी आपने पढ़ा है उसके नोट्स बना ले, नोट्स बनाने से आपको जल्दी समझ में आ जायेगा और यही स्टडी नोट्स आपको एग्जाम (Exam) में बहोत मदद करता है और अगर आप बाद में कुछ भूल जाते है तो आप नोट्स से देख के आसानी से समझ सकते है और ये आपको पढाई में मन लगाके पढने में बहोत मदद करता है
5. सभी ध्यान हटाने वाली चीजों को दूर करें।
अगर आप कुछ भी धयन से लम्बे समय काक बिना विचलित हुए पढना चाहते हैं तो सबसे पहले सभी ध्यान हाटाने वाली चीजों को दूर रखें। ज्यादातर ध्यान हटाने वाली चीजें होती है मोबाइल फ़ोन, सोशल मीडिया, गेम्स कंसोल, और टेलीविज़न।
6. पढाई का सारा सामान पढ़ते वक्त अपने पास रखे।
जब भी आप पढने के लिए बेठे तो उससे पहले आपको पढाई में भी चीज़े चाहिए वो लेले जैसे की किताब कॉपी पेन पेंसिल इत्यादि बाद में अगर आप कुछ चीज़ भूल जाते है और बीच में पढ़ते वक्त उठ के वो चीज़ लेने चले जाते है तो इससे आपका ध्यान हट जाता है और फिर आपका पढाई में मन नही लगता तो ये बाद ध्यान में रखे जब भी आप पढने बेठे
7. एक समय में एक ही काम करें।
एक ही समय में एक ही कार्य करने की आदत डालिए। ना सिर्फ पढ़ाई में बल्कि हर क्षेत्र मैं यह बहुत ही उपयोगी साबित होता है। कैसे –

>अपना ध्यान पूरी तरीके से एक ही चीज के ऊपर रखिये।
>जब एक काम पूरा हो तभी दुसरे काम पर जाएँ।
>एक ही समय में बहुत सारे कार्य करने की कोशिश से सभी कार्यों को अपूर्ण रखना पड़ेगा।

कुछ अन्य महत्वपूर्ण बाते।
> Hard Subject पहले पढ़े।
> पढ़ाई के बीच बीच में कुछ समय का break ले।
> Importants Book को Table के ऊपर रखे।
> Subject Complete करने पर Flash Card जरूर बनाये।
> खुद से सवाल किया करे।
> Topic को Practical चीजो से relate करे।
> Bed पर लेट कर न पढ़े।
> Importante Point को Highlight करे।
> कल का Study Plan आज ही बनाकर रखे।
> Daily Meditation करे।
> Study Plan को Strictly Follow करे।
> पढ़ाई करते समय Chewgum चबाएं।
> Multitasking को Avoid करे (एक समय में एक ही काम करें)
> Motivation Poster लगाए।
> हल्की आवाज में Music सुने।
> अच्छी नींद ले।
> हमेशा सकारात्मक विचारों के साथ जुड़े रहें और खाली समय में अच्छी प्रेरणादायक किताबें पढ़ें।
> जब कभी भी आपका ध्यान गलत और जाने लगे उसे झट से रोकिये और पढ़ाई पर ध्यान दीजिये।
> पढ़ाई को मज़ा समझ कर पढ़े ना की किसी बोझ के जैसे।

5 सामान्य चीजें जो आपके फोन की बैटरी को जल्दी खत्म करती हैं

0

वीडियो कॉल याऑनलाइन गेम के बीच में बैटरी खत्म हो जाना वास्तव में बहुत बुरा हो सकता है।यहां उन चीजों के बारे में बात करेंगे जो वास्तव में आपके फोन की बैटरी को जल्दी से ख़तम कर देती हैं

1. Games

आप आसानी से अपने स्मार्टफोन पर गेम खेलकर अपना समय बिता सकते हैं। यात्रा करते समय या किसी का इंतज़ार करते समय अगर आप ऊब जाते हैं। तो गेम खेलकर ही आपका समय व्यतीत होता है गेम खेलकर वास्तव में अपना समय आसानी से बिताया जा सकता है। इसके अलावा, PUBG और Clash of Clans जैसे गेम वास्तव में आम हो गए हैं। लेकिन, ऑनलाइन गेम खेलने से आपकी बैटरी भी जल्दी खत्म हो जाती है। खेल और ध्वनि के उच्च ग्राफिक्स इसके पीछे का कारण हैं।

2. Social Media App

इस धरती पर कौन अपने स्मार्टफोन पर सोशल मीडिया ऐप का उपयोग नहीं करता है? सोशल मीडिया आपको अपने आसपास की चीजों के साथ रहने, दोस्तों के साथ चैट करने और अपनी प्रोफ़ाइल पर कुछ पोस्ट करने की अनुमति देता है। फेसबुक, फेसबुक मैसेंजर, स्नैपचैट और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया ऐप लगभग हर कोई इस्तेमाल करता हैं। लेकिन ये ऐप कैमरा, लोकेशन सर्विसेज, वॉयस रिकॉर्डर आदि का इस्तेमाल करते हैं, जो आपकी बैटरी को जल्दी खत्म कर सकते हैं। इसके अलावा, जब यह ऐप बैकग्राउंड में चल रहा होता है, तो भी यह आपके फोन की बैटरी को डाउन कर देता है। अनावश्यक रूप से बैटरी ख़तम होने से बचाने के लिए जब आप इन ऐप को इस्तेमाल ना कर रहे हो तो इन्हे बन्द करना ना भूले।

3. Display Brightness

आजकल सभी स्मार्टफोन अपने फोन में बहुत बड़ी बड़ी स्क्रीन दे रहे हैं। जहां एक तरफ फोन की बड़ी स्क्रीन पर गेम खेलना और वीडियो देखना बड़ा मजेदार होता है वहीं दूसरी ओर ये अतिरिक्त-बड़ी स्क्रीन बैटरी जल्दी ख़तम होने का कारण भी है इसीलिए आपके फोन की ब्राइटनेस को अधिक रखने से आपकी बैटरी जल्दी खत्म हो जाएगी। साथ ही इसे टॉर्चलाइट के रूप में इस्तेमाल करने से भी बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है।

4. Bluetooth

ब्लूटूथ का उपयोग अक्सर आपके फोन को मीडिया-उपकरणों के साथ जोड़ने के लिए किया जाता है। इसके अलावा आप इसका उपयोग करके फ़ाइलें भेजने और प्राप्त करने में भी कर सकते हैं। लेकिन जब आपका ब्लूटूथ अनावश्यक रूप से चालू हो जाता है, तो यह आपके फोन की बैटरी को जल्दी ख़तम करता है। इसलिए जब आप इसका उपयोग ना कर रहे हो तो इसे बंद करना न भूलें।

5. GPS

कुछ लोग अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए बहुत बार GPS का उपयोग करते हैं। GPS आपको Google मानचित्र के माध्यम से स्थानों को खोजने और उन तक पहुंचने के लिए दिशा-निर्देश (रास्ते) दिखाता है। लेकिन बहुत अधिक समय तक जीपीएस का उपयोग करने से यह आपको आपके लक्ष्य तक पहुंचने से पहले ही आपके फोन की बैटरी को ख़तम कर सकता है। यह आपको अजीब लग सकता है लेकिन यह सच है। आप इससे बचने के लिए अपने मानचित्र को डाउनलोड कर सकते है और उसका इस्तेमाल ऑफलाइन रूप से कर सकते है।

अपने गूगल फ़ोटो का बैकअप कैसे लें।

0

आपको अपने मोबाइल फोन से Google फ़ोटो ऐप को हटाते समय ध्यान रखना चाहिए कि जब आप Google फ़ोटो ऐप को अपने Android फ़ोन से निकालने जा रहे हों, तब आप बैकअप को ऑफ और उसे Sync करना ना भूले।

फोन से गूगल फ़ोटो का बैकअप कैसे लें?

यदि आप एंड्रॉइड उपयोगकर्ता हैं तो मुझे यकीन है कि आपके फोन में गूगल फ़ोटो ऐप पहले से ही मौजूद होगी। और यदि आपके फोन में यह एप्लीकेशन नहीं है तो Google Play Store से यह ऐप डाउनलोड कर सकते है।

step1 गूगल फोटो ऐप डाउनलोड करने के बाद इसे ओपन करें।

step2 आपको इसमें थ्री लाइन मेनू लेफ्ट साइड में मिल जाएगा उस पर टैप करें और उसके बाद, आपको सेटिंग विकल्प पर क्लिक करना होगा।

step3 अब सेटिंग्स में, आपको बैकअप और Sync विकल्प का चयन कर ले।
step4 अब यहाँ बैकअप और Sync के इस विकल्प में, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि टूगल ऑन है।
इस विकल्प से, आप कुछ अन्य सुविधाएँ भी कर सकते हैं।
जैसे, आप चुन सकते हैं कि आप वीडियो या फोटो का बैकअप लेना चाहते हैं या नहीं। आप वाई-फाई के साथ या मोबाइल नेटवर्क आदि से फाइलों का बैकअप लेना चाहते हैं। आप इस प्रकार की अतिरिक्त सेटिंग्स यहां से कर सकते हैं।

Windows या MacOS से अपनी Google फ़ोटो का बैकअप लेने के लिए क्या करें?

यदि आप कैमरे से कंप्यूटर में अपनी फ़ोटो अपलोड कर रहे हैं तो आप गूगल फोटो के माध्यम से इसका बैकअप ले सकते हैं। इसके लिए आपको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा:

सबसे पहले, Google के Backup और Sync वाले स्थान पर जाएं। अब आपको “Get Started” बटन पर क्लिक करना होगा और अपने Google Account में Sign in करना होगा। अगली विंडो में, यह आपसे पूछेगा कि आप केवल वीडियो और फ़ोटो का बैकअप लेना चाहते हैं या उसके साथ अन्य फाइलों का भी बैकअप लेना चाहते हैं। इसे अपनी पसंद के अनुसार चुनें और उसके बाद Next बटन पर क्लिक कर दे।

अब आपको उस जगह को चुनना होगा जहां आप अपने फोटो और वीडियो का बैकअप लेना चाहते हैं और आप यह भी चुन्न सकते है कि आप उन्हें “High Quality” या “Original Quality” में से किसके साथ सहेजना चाहते हैं।
अब आप “Advance Settings” पर क्लिक कर सकते हैं जो उस पृष्ठ के निचले स्तर पर उपलब्ध होगी। यहां आप यह चून्न सकते है कि आपको अपने फोटो और वीडियो को गूगल ड्राइव से Sync करना हैं।

या नहीं।अब बस आपको Start बटन पर क्लिक करना है और आपके फोटो और वीडियो का बैकअप की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। जब यह प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी तो आप गूगल फोटो पर और वहा अपने फोटो और वीडियो की बैकअप फाइल देख सकते है।

अब आपके कंप्यूटर के टूलबार में एक नया विकल्प आएगा जब आप इसके आइकन पर क्लिक करेंगे तो यह आपको बताएगा कि हाल ही में कौन सी फाइल अपलोड की गई है और कौन सी स्कीप की गई है। बैकअप के दौरान कुछ फ़ाइलों को छोड़ दिया जा सकता है क्योंकि या तो वे पहले से ही वहाँ मौजुद होगी या फ़ाइल का आकार बहुत बड़ा हो सकता है जो कि फोटो के लिए 75MB से 100MB और वीडियो के लिए 10GB के आसपास होता है।
अगर फोटो और वीडियो जो स्किप हो गए हैं, आप लोगों के लिए महत्वपूर्ण हैं और इसका बैकअप बनाना चाहते हैं तो आप एक काम कर सकते हैं, फोटो और वीडियो को कंप्रेस करें और उसके बाद इसे Google Photos Backup पर अपलोड कर सकते है।

मुझे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी है और आपने अपने महत्वपूर्ण फ़ोटो और वीडियो का सफलतापूर्वक बैकअप लिया है।

व्हाट्सएप मैसेज और मीडिया का बैकअप और रिस्टोर कैसे करें

0

क्या आपने भी कभी अपनी व्हाट्सएप संदेशों और मीडिया को खोया है हम सभी उस दर्द को जानते है जो हमें अपनी व्हाट्सएप चैट के डिलीट हो जाने पर भुगतना पड़ता है। हमारी सभी चैट और व्हाट्सएप ग्रुप में साझा की गई बाते बस एक छोटी सी गलती की वजह से डिलीट हो जाती है।

तो ऐसे में ये जानना काफी जरूरी है कि हम व्हाट्सएप संदेशों और मीडिया का बैकअप कैसे लें। यदि आप अपना फोन बदलने वाले है या आपका फोन खो जाए तो ऐसी स्थिति में हमे बैकअप की आवश्यकता पड़ती है।व्हाट्सएप स्वचालित रूप से आपके सभी डेटा, संदेशों और अन्य चीजों का बैकअप ले सकता है लेकिन इसके लिए हम इसे स्थापित करने की आवश्यकता होती है।

और यदि आप इसे मैनुअल रूप से सेट करते हो तो आपका फोन खो जाने या बदलने पर आप अपना डेटा खोने से बचा सकते हैयहां हम व्हाट्सएप चैट का बैकअप लेने और स्वचालित बैकअप के लिए इसे सेट करने के तरीके के बारे में जानेंगे।

व्हाट्सएप चैट का बैकअप कैसे लें।

अपनी चैट का बैकअप लेना उतना ही आसान हो सकता है जितना कि आपकी व्हाट्सएप डीपी का बदलना। आइए हम प्रक्रिया को जानते है।
1. व्हाट्सएप पर चैट मेन्यू पर शुरू करें (वह पृष्ठ जिसमें आपकी सभी बातचीत शामिल है)।
2. ऊपर कोने में दाई ओर स्थित विकल्प आइकन (तीन ऊर्ध्वाधर डॉट्स वाला आइकन) पर क्लिक करे।
3. अब एक लिस्ट आपके सामने आई होगी उसमे सैटिंग के विकल्प पर क्लिक करे।

4. सेटिंग्स मेन्यू से दूसरे विकल्प “चैट” पर क्लिक करें।
5. फिर चैट बैकअप (दूसरा अंतिम विकल्प) पर क्लिक करें।

यहां आप बैकअप के मेन्यू में आ जाएंगे और यह मेन्यू तब का दिखाई देगा जब आपने आखिरी बार व्हाट्सएप के सभी मेसेज और मीडिया का बैकअप अपने लोकल स्टोरेज या अपनी गूगल ड्राइव में दिया होगा। यहां आप अपने गूगल ड्राइव खाते को आपके व्हाट्सएप का बैकअप लेने के लिए सेट कर सकते हैं और यह भी चुन सकते है कि जब आपका फोन किसी वाईफाई से कनेक्ट हो तो बैकअप लेना है या नहीं।
आपके डेटा का बैकअप लेने के लिए आपको बस बड़े हरे बटन पर क्लिक करना होगा और व्हाट्सएप अपने आप आपके डेटा को आपकी चुनी गई स्टोरेज में बैकअप देना शुरू कर देगा।

व्हाट्सएप को अपने आप बैकअप लेने के लिए कैसे सेट करे।

अपनी चैट का स्वचालित रूप से बैकअप लेने के लिए आपको बस ऊपर दिए गए चरणों का पालन तब तक करना होगा जब तक कि आप चैट बैकअप मेन्यू तक नहीं पहुंच जाते।

चैट बैकअप मेन्यू तक पहुंचने के बाद- गूगल ड्राइव में बैकअप पर क्लिक करें। उस आवृति को चुनें, जिस पर आप अपनी चैट का बैकअप लेना चाहते है।

कुछ खास तथ्य।

चैट के स्वचालित रूप से बैकअप के लिए यदि आप रोजाना या बहुत ज्यादा व्हाट्सएप इस्तेमाल करते हैं तो बेहतर होगा कि आप “DAILY” चुने। यदि आप व्हाट्सएप में लगातार चैटिंग नहीं करते या कम इस्तेमाल करते है तो यह अच्छा होगा कि आप “Monthly” वाले विकल्प का चुनाव करे।

बैकअप चैट मेनू में आपको अन्य विकल्प भी मिलेंगे जो आपको यह चुनने देंगे कि वीडियो और फोटो का बैकअप लेना है या नहीं। आप अपनी पसंद के अनुसार इसमें से किसी का भी चयन कर सकते हैं।

आपके फोन को ओवरहीटिंग से बचाने के लिए 13 उपाय।

0

यहां हम उन 13 तरीकों पर नजर डालते हैं जिनसे आप अपने फोन को ओवरहीट होने से रोक सकते हैं।
1. कैमरा।

  • एक अच्छी क्वॉलिटी वाले वीडियो कैमरा वाले फ़ोन ओवरहीटिंग को समाप्त कर सकते हैं। लेकिन यह सभी मामलों में नहीं होता है, यह कुछ अन्य कारकों पर निर्भर करता है ।
  • सलेक्टेड रेसुलेशन और फ्रेम रेट
  • स्क्रीन ब्राइटनेस
  • बाहर(एन्वायरमेंट) का तापमान।

2. अपने मोबाइल फोन की बैटरी को केवल 80% तक चार्ज करें।

अगर आप हमेशा अपने फोन को रात भर चार्ज करते हैं तो मेरे दोस्त आप गलत काम कर रहे हैं। तकनीशियनों द्वारा हमेशा यह सलाह दी जाती है कि बैटरी को ज्यादा से ज्यादा चलाने के लिए फोन की बैटरी को केवल 80% तक चार्ज किया जाना चाहिए। और 100% तक चार्ज करने या 100% के बाद भी केबल को चालू रखने से फोन की गंभीर रूप से हीटिंग होना शुरू हो जाता है। जब यह पूर्ण चार्ज होता है, तो आपके फ़ोन के ज़्यादा गरम होने की संभावना होती है, इसलिए इसे तब चार्ज करें जब इसमें 30% के आस-पास बैटरी रह जाए और बैटरी 80% तक पहुंचने के बाद इसे चार्जिंग से हटा दे।

3. मोबाइल फोन को सीधे धूप के संपर्क में आने से बचाएं।

यह एक स्पष्ट बात है कि यदि आप फोन सीधे धूप के संपर्क में रखते हैं तो आपका फोन गर्म हो जाएगा। इसलिए पूल या समुद्र तट का आनंद लेते हुए अपने फोन को सीधी धूप में रखने से बचें।

4. हमेशा अप्रयुक्त एप्लिकेशन बंद रखे।

आप अपने फ़ोन का उपयोग बंद करने के बाद भी आपका फ़ोन तब तक काम करना बंद नहीं करेगा जब तक कि आप सभी बैकग्राउंड ऐप्स और टैब बंद नहीं कर देते। इस प्रकार, बैकग्राउंड ऐप्स और अनलॉक्ड टैब के लगातार काम करने के कारण फोन ज्यादा गर्म हो जाते हैं, इस प्रकार अपने फोन को छोड़ने से पहले सभी बैकग्राउंड ऐप्स और टैब क्लीयर करने की आदत डालें।

5. अपने फोन की ब्राइटनेस को कम रखे।

फोन की ओवरहीटिंग के लिए जो चीज सबसे बड़ा कारण बनती है, वह है आपके फोन स्क्रीन की ब्राइटनेस। इसलिए, अपनी फोन स्क्रीन की ब्राइटनेस को हमेशा न्यूनतम स्तर पर रखना न भूलें। अगर आपको न्यूनतम ब्राइटनेस वाली स्क्रीन देखने में परेशानी होती है तो एंटी-ग्लेयर स्क्रीन का प्रयोग करे।

6. हमेशा अपने मोबाइल ऐप्स को अपडेट रखें।

अपने फोन को सुरक्षित रखने के लिए आपको हमेशा अपनी मोबाइल ऐप्स को अपडेट रखना चाहिए। पुराने ऐप्स में बग (प्रोग्राम में त्रुटि) हो सकते हैं जो आपके फोन को ओवरहीटिंग की ओर ले जाएंगे। इसलिए अपने फोन को हमेशा अपडेट रखने से आपके फोन की ओवरहीटिंग को कम करने में कुछ हद तक मदद मिलेगी।

7. अनावश्यक ऐप्स को फोन में ना रखे।

उन कार्यों और ऐप्स को हटा दें जिनका आप उपयोग नहीं करते हैं। अपने फोन में अप्रयुक्त ऐप्स को रखने से आपके फोन का स्टोरेज आसानी से भर जाएगा, जिससे फोन ओवरहीट होने लगेगा।

8. एयरप्लेन मोड का ओंन करें।

जब आप अपने फोन का उपयोग नहीं कर रहे हो या कभी-कभी जब आप किसी अध्ययन में व्यस्त हो या किसी मीटिंग में हो, तो अपने फोन को केवल साइलेंट मोड में न रखें। आपको बस एयरप्लेन मोड को स्विच ऑन करने की आवश्यकता है और यह सभी कार्यों को रोक देगा जिससे बैटरी डाउन और ओवरहीटिंग को रोका जा सकता है।

9. ब्लूटूथ का सही प्रयोग।

अपने ब्लूटूथ को थोड़ा आराम दें। ब्लूटूथ के ज्यादा इस्तेमाल से आपके फोन की ओवरहीटिंग हो जाएगी। यदि आप ब्लूटूथ का उपयोग नहीं कर रहे हैं तो इसे बंद करना न भूलें। और अगर आपका फोन ऑटोमैटिक आपकी कार की ब्लूटूथ से कनेक्ट होता है, तो आपको इसे ऑटो-कनेक्टिंग से रोकने की आवश्यकता है क्योंकि यह आपकी इच्छा के बिना भी कभी-कभी कनेक्ट हो जाएगा और यह अंततः आपके फोन को ओवरहीटिंग में परिणाम देगा।

10. एंड्रायड मोबाइल के लिए एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का प्रयोग करे।

यदि आप एक एंड्रायड फोन का प्रयोग करते है तो आपको एंटीवायरस की आवश्यकता के बारे में पता होना चाहिए। यदि आपका एंड्रॉइड फोन गर्म हो रहा है, तो सबसे संभावित कारण आपके फोन पर वायरस की मौजूदगी हो सकती है। और इस तरह इस समस्या से निपटने के लिए एक एंटीवायरस का प्रयोग करना सबसे अच्छा तरीका है।

11. मोबाइल में गेम खेलना थोड़ा कम करे।

गेम्स हमेशा अपने भारी आकार के कारण फोन के ओवरहीटिंग का कारण बनते हैं। इस प्रकार आपको अपने स्मार्टफोन पर खेले जाने वाले खेलों को कम से कम करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके अलावा, यदि आप अपने फोन को ठंडा करने के लिए गेम के बीच काफी अंतराल ले रहे हैं तो यह सुनिश्चित करले कि अंतराल के दौरान गेम बैकग्राउंड में न चल रहा है।

12. फोन कवर हटा दे।

अगर आपका फोन पहले से ही गर्म है तो अपने फोन को तेजी से ठंडा करने के लिए आपको बस उसे कवर से बाहर निकालने की जरूरत है ताकि उसकी गर्मी आसानी से निकल सके। यह सुझाव भी दिया जाता है कि आप अपने फोन को चार्ज करते समय भी कवर को हटा दें।

13. अपने फोन के चार्जिंग केबल की जाँच करें।

यदि आपका फ़ोन चार्ज करते समय अधिक गरम हो रहा है तो सबसे संभावित दोष चार्जिंग केबल में हो सकता है। इसलिए आपको हमेशा एक ब्रांडेड चार्जिंग केबल का उपयोग करना चाहिए। यदि आप एक सस्ते चीनी चार्जिंग केबल का उपयोग कर रहे हैं तो इसकी संभावना बढ़ जाती है कि आपका फोन गर्म हो जाएगा।

एंड्रॉइड फोन से डिलीट हो गए फोटो/फाइल को कैसे पुनः प्राप्त करें।

0

जब भी हम किसी फोटो/फाइल को डिलीट करते है तो वह फाइल डिलीट होने के बाद फोन में बिना अतिरिक्त जगह लिए अपने स्थान पर रहती है एक बार आप उस फाइल के स्थान पर कोई नहीं फाइल रख देते है तो उसके बाद डिलीट की गई फाइल हमेशा के लिए डिलीट हो जाती है।

डिलीट हुई फोटो/फाइल को वापिस लाने के दो तरीके है

1. डिलीट हो गई फाइल के जगह कोई नहीं फाइल ना लाए।
2. और जितना जल्दी हो डिलीट हो गई फाइल को वापिस लाने का प्रयास करे।
हम अपने फोन में कई काम करते है जैसे कि नयी ऐप को इंस्टॉल करना, नयी वीडियो या कोई अन्य फाइल्स डाउनलोड करना। और ये नयी फाइल डिलीट हो गई फाइल्स का स्थान ले सकती है इसीलिए जब तक आपकी डिलीट हुई फाइल वापिस ना आए तब तक फोन का इस्तेमाल कम करे।
आप किसी कंप्यूटर में रिकवरी सॉफ्टवेयर का प्रयोग करके भी डिलीट हुई फाइल वापिस ला सकते है। यदि आप अपने एंड्रॉयड फोन में रिकवरी ऐप का इस्तेमाल करके अपनी फाइल को वापिस लाना चाएंगे तो जब आप उसे इंस्टॉल करेंगे वह आपकी डिलिट हुई फाइल का स्थान ले लेगी।
FonePaw Android Data Recovery” नाम के कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की मदद से भी आप अपनी डिलीट फाइल्स को वापिस ला सकते है। यह आपको हटाए गए संदेशों, कॉल लॉग्स, व्हाट्सएप, फाइलें, फोटो, वीडियो आदि को एंड्रॉइड फोन पर वापस लाने में मदद कर सकता है।
Step 1
अपने कंप्यूटर में रिकवरी सॉफ्टवेयर को खोले और फिर अपने मोबाइल को USB Cable की सहायता से अपने कंप्यूटर से कनैक्ट करे।
Step 2
अब अपने फोन में यूएसबी डिबगिंग को अनुमति दे जो आपके फोन को कंप्यूटर से कनैक्ट करने के लिए आवश्यक है।
यदि आपके पास एंड्रॉइड 2.3 या उससे पहले का Version है, तो सेटिंग्स पर जाएं> एप्लिकेशन पर जाएं> यहां आपको development विकल्प मिलता है उस पर क्लिक करें> यूएसबी डिबगिंग पर क्लिक कर दे।
यदि आपके फोन में Android Version 3.0 – 4.1 है,तो उसके बाद सेटिंग पर जाएं developer विकल्प पर क्लिक करें और फिर यूएसबी डिबगिंग विकल्प पर क्लिक कर दे।
यदि आपके पास नवीनतम Android Version 4.2 या उससे भी नया हो तो निम्न चरणों का पालन करे।

सेटिंग में जाएं और फिर “About Phone” पर क्लिक करें
अब, “Build Number” पर 7 बार टैप करें और फिर आप देखेंगे कि “Developer” विकल्प चालू हो गया है।
फिर, सेटिंग में वापस जाएं और Developer विकल्प पर क्लिक करके, यूएसबी डिबगिंग को चालू करे।

Step 3
अब, USB डिबगिंग को सफलतापूर्वक चालू करने के बाद आपका फ़ोन आपके कंप्यूटर से कनेक्ट हो जाता है उसके बाद आप उस प्रकार की फ़ाइलों का चयन करें जिन्हें आप वापिस लाना चाहते हैं। जैसे वीडियो, फोटो, मैसेज, डॉक्यूमेंट आदि को टिक करें और उसके बाद नेक्स्ट पर क्लिक करें।
Step 4
अब, इस चरण में सॉफ़्टवेयर यदि आपके फ़ोन की जानकारी की जाँच करता है। यहां, उसे रूट अनुमति की आवश्यकता होगी जो डिलीट हुई फ़ाइलों तक पहुंचने के लिए महत्वपूर्ण है। जब आप नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट जैसी स्क्रीन देखते हैं तो आपको अपने कंप्यूटर से कनेक्टेड फोन को खोलना होगा और फिर Allow/Grant/Authorize पर क्लिक करना होगा जो Root अनुमति प्रदान करेगा।
Root अनुमति को चालू करने के बाद, सॉफ़्टवेयर डिलीट हुई फ़ाइलों को स्कैन करना शुरू कर देगा। यहां आपको थोड़ा सा इंतजार करना होगा।
Step 5
अब, जब सॉफ्टवेयर सभी हटाए गए फ़ाइलों को स्कैन करता है तो यह आपके फोन की सभी फाइलों को दिखाएगा। अब ON बटन पर क्लिक करें जो आपको डिलीट की गई सभी फाइलें दिखाएगा। अब उन फ़ाइलों का चयन करें जिन्हें आप वापिस लाना चाहते हैं और इसके बाद “Recover” बटन पर क्लिक करें। डिलीट हुई फाइल्स आपके कंप्यूटर में सेव हो जाएंगी।

और बस अब आप आपनी डिलीट हुई फाइल्स को इस्तेमाल कर सकते है।
डिलीट की गई फाइलों को बिना Root के रिकवर करे।

ज्यादातर लोग अपने Android Phone को Root किए बिना फोटो/फाइल को रिकवर करने का तरीका खोजते हैं। लेकिन, उन लोगों के लिए बुरी खबर है जिनके पास Rooted फोन नहीं है। क्योंकि डिलीट की गई फाइल्स सिस्टम के उस हिस्से में जाती हैं जो कि फोन के Root होने पर ही एक्सेस होती है। जब तक आपके पास Root किया हुआ फ़ोन नहीं है, तब तक आप हटाई गई फ़ाइलों को वापिस नहीं ला सकते है।यदि आप अभी भी डिलीट हो गई फ़ाइलों को वापस प्राप्त करना चाहते हैं, तो अपने फोन को कुछ समय के लिए Root कर दे।
जब तक कि खोई हुई फाइलें आपके फोन में वापस नहीं आतीं। फ़ाइलों को वापस पाने के बाद आप अपने फोन को किसी भी समय Unroot कर सकते है।
तो, यह सबसे सुरक्षित तरीका है जिसका उपयोग आप डिलीट हो गई फ़ाइलों को अपने मोबाइल फोन में वापस करने के लिए कर सकते हैं। डिलीट हो गए फ़ोटो/फ़ाइलों को वापस पाने के लिए आपको केवल एक कंप्यूटर और एक यूएसबी केबल की आवश्यकता होती है। मुझे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी है और आपने अपने फोन पर डिलीट हो गए फ़ाइलों को सफलतापूर्वक प्राप्त कर लेंगे।

If you are facing these symptoms you can also become a victim of depression

0

Depression is a common but serious disorder of mood. It’s more than just feeling depressed. It is natural to feel sad at times, but if this sad mood persists day after day it can be a sign of depression. Major depression is an episode of sadness or apathy with other symptoms, which last for at least two consecutive weeks and is quite serious to disrupt daily activities.
This causes serious symptoms that you even can’t think
In fact, a person suffering from depression may also feel like he does not deserve his life anymore.
Depression can be light, moderate or severe. There are also certain types of depression, which develop under unique conditions such as
Postnatal Depression (PND)
Psychological depression
Congenital depression
Seasonal stimulated disorder
Persistent depressive disorder

Symptoms of depression include

1. Anxiety or restlessness-

If you ever start feeling anxiety or restlessness, you must consult a doctor. Avoiding such things may lead you to fall in depression. You may become mentally sick for a lifetime. So this is why if you want to prevent yourself from depression you must consult a doctor on facing such issues with your health. You must remember that any issue in your health should never be ignored.

2. Change in appetite-

You must be feeling strange about reading it, but yes it is true that change in appetite can also be a symptom of depression. Try not to ignore such little things in order to prevent yourself from depression.

3. Fatigue-

Fatigue and lack of energy, due to which small efforts also require extra effort. If you don’t feel active and feel low energetic throughout the day, it may be a reason for your concern.

4. Insomnia-

Do you know that Sleep disturbances, insomnia or sometimes much more sleep can also be a symptom of depression? Either you feel difficult to fall asleep, or feel sleepy every time, then it must be happening because of depression. You must not avoid these things thinking it must be happening because of something else reason.

5. Loss of interest-

Yes, loss of interest or pleasure in most or all general activities, such as s3x, hobbies or sports is a symptom of depression. If it happens all of a sudden then you must not avoid these symptoms and consult a doctor as soon as it is possible.

6. Anger, irritability or frustration-

If you are getting angry and frustrated even on small matters, you need to show concern regarding this. As this is also one of the common symptoms of depression.

7. Feelings of sadness, tears, emptiness or disappointment-

Sometimes, these all symptoms may be happened because of your mood swings. But every time you can’t blame mood swings for your bad behaviors. So every time you feeling sad, alone and disappointed. First try to keep yourself busy with the things you love to do, and still if you are unable to find happiness then you must consult a doctor about it.
So, these were the common symptoms of depression. To prevent yourself from depression must pay attention to these symptoms of facing them.

07 Food typologies for the proper functioning of bones and healthy body

0

206 a very precious number representing the number of bones in a human body. A small failure or misfunctioning of bone leads to certain problems because bones are responsible for all the important function of a human body such as providing structure and shape to the body, securing muscles, and also acting as the main calcium storage for body. So, without any hesitation, we should immediately start taking care of our bone and certain nutrients that would make our bones stronger and healthier since diet becomes the most efficient part of our body to make it stronger, healthier and energetic.
Certain factors or small misbalance in the diet affects our bones. Here, let’s list out seven food typologies with certain nutrient contents in it for the proper functioning of bones and also resulting in a healthy body.

1. Salmon
Salmon represents the name of a fish which includes many nutrients in it that is much efficient for our bones. Calcium, as we all know, is very essential for our bones and needs to be consumed for maintaining healthy bones but that doesn’t seem to be enough. Consumption of salmon is necessary since this fatty fish contains certain nutrients like Vitamin – D, protein, calcium and also omega – 3 fatty acid that helps in improving the density of bones and accumulation on regular consumption.2. Spinach

A healthy vegetable with high calcium content and Vitamin – K that helps in the storage of calcium in bones for a longer period. Addition of Vitamin – A & C, Iron, Fiber, Potassium and Magnesium in spinach makes it all good and efficient to get consumed for stronger and healthier bones.3. Cheese

A very healthy and preferred nutrient by common people nowadays. Cheese contains vitamin D, A & B12, riboflavin, phosphorus, protein and calcium, and the above-mentioned nutrients have a good contribution for a healthier and stronger bone with a great source of calcium for people not addicted to consuming lactose.4. Yogurt

A very efficient nutrient containing potassium, magnesium, riboflavin, phosphorus, calcium, Vitamin – D, A & B12 and protein. Consumption of a cup of yogurt in daily diet benefits our bones and also helps in good maintenance of health preventing the body from other disease attacks.5. Orange Juice

Addition of orange juice in our body daily would not only enrich our bones also let us have a good digestive system since it contains thiamin, folate, and potassium along with vitamin – D, calcium and citric acid (helps in digestion) for keeping us fit.6. Milk

The most common and suitable nutrient that is consumed by people of all age group. Consumption of one glass of milk every day could be very crucial for our body since, apart from being the main source of calcium it also contains potassium, magnesium, riboflavin, phosphorus, and vitamin – D & B12 which are the most efficient for strong and healthy bones.7. Eggs

A proper nutrient that can be added to our diet daily for making our body efficient with Vitamin – D that is mainly contained in the yolks of an egg. The addition of some green leafy vegetables with boiled eggs in breakfast would not only benefit our bones but also maintaining good health.

तो गूगल की तरह कहीं एप्पल भी तो नही सुन रहा हमारी बात

0

इंटरनेट पर हम कितने सुरक्षित है ये अब जग जाहिर हैजो सिलसिला फेसबुक डेटा लीक से शुरू हुआ था वो एलेक्सा, गूगल सब तक पहुंचा । वही अब एप्पल के एक फॉर्मर कॉन्ट्रैक्टर ने यह खुलासा किया है,एप्पल थर्ड पार्टी कॉन्ट्रेक्टर को सीरी और उपयोगकर्ता के कन्वर्जन को सुनने के लिए पैसे दे रहा है।द गार्जियन की एक नई रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि वर्कर्स ने गलती से उपयोगकर्ताओं की निजी बातचीत सुनी है, जिसमें एप्पल के वॉयस असिस्टेंट सिरी के माध्यम से उपयोगकर्ताओं की निजी बाते ,जैसे-डॉक्टर की अपॉइंटमेंट आदि शामिल थी।

गौरतलब है कि अभी हाल की में अमेज़ॉन वॉइस एआई असिस्टेंट एलेक्सा और गूगल असिस्टेंट के बारे में भी ऐसी ही खबरे आयी थी। जहां कोई और इनके द्माध्यम से यूजर द्वारा किया गया कन्वर्जन सुन रहा था।कॉन्ट्रैक्टर ने द गार्जियन को बताया कि सिरी को दिए गए इंटरैक्शन वास्तव में उन वर्कर्स को भेजे जाते हैं, जिन्हें फैक्टर्स के आधार पर इंटरैक्शन को ग्रेड करने के लिए कहा जाता है। इनमें यह शामिल है कि क्या कोई अनुरोध जानबूझकर किया था या फिर गलती से ट्रिगर किया गया था या यदि सिरी द्वारा दी गई प्रतिक्रिया उपयोगी थी या नहीं।

वही एप्पल ने इस पर गार्जियन को जारी एक बयान में यह स्वीकार करते हुए टिप्पणी की कि ,ये सच है सिरी को भेजी गई रिक्वेस्ट(अनुरोध) के छोटे से हिस्से का प्रयोग सिरी और डिक्टेशन(श्रुतलेख) में सुधार के लिए लिया जाता है।हालांकि इसका यूजर की Apple ID से कोई सम्बन्ध नही हैं।सिरी का विश्लेषण पूर्ण सुरक्षित प्रक्रिया के तहत किया जाता है जोकि एप्पल के सख्त गोपनीय पालन के अंतर्गत ही होता है।एप्पल के तकनीकी दिग्गज ने इस पर बात करते हुए यह भी कहा कि इस पद्धति का उपयोग करके दैनिक गतिविधियों के 1% से कम हिस्सो का ही विश्लेषण किया जाता हैं।