डार्क वेब के वो फैक्ट जो आपको इससे पहले पता नहीं होगा

डार्क के अगर आप इंटरनेट से अच्छा खासा जुड़ाव रखते है तो आपने कभी ना कभी डार्क वेब के बारे में तो सुना ही होगा। डार्क वेब,तो जैसा कि नाम से प्रदर्शित है यानी कि इंटरनेट की काली दुनिया और अगर हम किसी संसार को काला कहते है तो हम समझ सकते है कि वाकई झोल झाल वाली जगह है,

यानी इंटरनेट का वो क्षेत्र जहां हर वो बड़े से बड़ा,बुरे से बुरा काम होता है जिसकी आप कल्पना भी नही कर सकते,तो चलियेआज हम इंटरनेट की इसी काली दुनिया के कुछ तथ्यो पर नजर डालते है।

Tor ब्राउज़र मतलब तौबा तौबा–

यह कोई तथ्य नही यह एक सलाह जो यहां सबसे पहले दी जा रही है कि मज़े मज़े में कभी भी Tor ब्राउज़र (डार्क वेब ब्राउज़र) प्रयोग ना पर ना जाये ।नही तो सिर्फ एक क्लिक आपकी जिंदगी को ऐसे बर्बाद करने के लिए काफी है कि आप अंदाजा भी नही लगा सकते।
आपके पूरे सिस्टम को इस तरह से हैक किया जा सकता है कि आपके सारी बैंक अकॉउंट डिटेल,उनके पासवर्ड,पर्सनल फ़ोटो अल्बम या यूं कहें पूरा सिस्टम में जो भी सब उड़ सकता है या फिर इस तरह से स्क्रिप्ट किया जा सकता है आगे आप जो करे वो हैकर की नजर में रहे।

मतलब की आपको पता लगे बगैर आपका पूरा सिस्टम कॉपी जो जाएगा और उसमें ऐसा प्रोग्राम स्क्रिप्ट हो जाएगा कि आगे आपका सिस्टम आपका नही बल्कि हैकर का होगा।
आत्माओ की बिक्री–
via

आपको शायद जानकर हैरानी होगी,पर डार्क वेब पर आत्माओ की बिक्री भी होती है।हां ये सच है।असल यहां आत्माओ का नाम देकर झूठा या सच्चा ये हम नही कह सकते पर ऐसे सामान जरूर बेचे जाते है। वही यहाँ अबॉर्शन के उपरांत मिसकैरेज हुए भूर्ण आदि को बेचने का घिनोना काम भी होता है।

जाली डॉक्यूमेंट

हम जानते है कि डार्क वेब पर बहुत सारी गैर चीजे होती है।यहां क्रेडिट कार्ड की डिटेल बेची जाती,कंपनी के कोड बेचे जाते है जिन से आप पूरी की पूरी कंपनी को चुना लगा सकते है ।वही यहां आप किसी भी हुबहू नकली पासपोर्ट बनवा सकते है।चूंकि यहां पूरा पेमेंट बिटकॉइन में होता है इसलिए लेन-देन पूरी तरह से सुरक्षित होता है।

हालांकि कुछ एक आध बार सरकार ने लेनदेन को ट्रैक करने में कामयाबी भी पाई है और जहाँ लेनदेन करने वाले दोनो पक्षो की गिरफ्तारी भी हुई है।
मोस्ट से कही ज्यादा नॉलेजेबल–

हाँ ये सच है,की डार्क वेब पर आपको वे बुक्स,वे लेख मिल सकते जो सदियों पुराने है या फिर ऐसा जो पूरी तरह से बैन हो चुका हो।यहां वे जानकारी छुपी हुई है जिनके बारे में हम सोच भी नही सकते ।जैसे कि खजाने का रास्ता या भूतिया जगह की जानकारी या फिर किसी महान युद्ध जैसे द्वितीय विश्व युद्ध के महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट ये सब आपको डार्क वेब पर मिल सकता है।

जर्नलिस्ट भी करते है इस्तेमाल–

ऐसा नही है कि डार्कवेब का इस्तेमाल केवल क्रिमिनल ही करते है।बल्कि उन देशों के जर्निलिस्ट जहां सीधे तौर पर सरकार से तीखे सवाल नही किये जा सकते वे भी डार्क वेब के जरिये सरकार के खिलाफ सबूत इकट्ठा करने और अपने विचार व्यक्त करने का काम करते है।
लीगल भी बिकता है कुछ-कुछ–

हालांकि डार्क वेब ड्रग्स,वेपन और इनफार्मेशन जैसी अवैध चीजे ही बेची जाती है।पर इससे अलग कुछ लीगल या यूं कहें फनी चीजे भी बेची जाती है।जैसे गाजर,ब्रेड,डायपर आदि।पर डार्क वेब तुम ये बेचने के लिए सब दांव पे लगा आये ।क्यो भाई क्यो ?
छी: इत्ता घिनोना–

यहां आपको जानकर हैरानी होगी कि डार्क वेब पर एक साइट ऐसी भी है जिस पर जानकारी है कि आखिर एक औरत को कैसे पकाए। यहाँ आपको बताया जाता है किसी औरत को पकाने के लिए कैसे काटे कौन से हिस्से को कैसे पकाए आदि।सच मे कितना घिनोना है ना।
तो अब आप समझ ही गये होंगे कि आखिर डार्क वेब आखिर किस हद तक खतरनाक है।वही अगर आप साधारण से कुछ ऊपर वाले इंटरनेट यूजर हो तो भी आपके लिए शायद ही किसी काम का साबित हो क्योकि आपके लिए यहां काम कम खतरा लाख गुना ज्यादा है।

बाकी अगर आप बढ़िया इंटरनेट के ज्ञाता है बढ़िया मतलब अव्वल दर्जे तो फिर डार्क वेब आप जैसो के प्रैक्टिकल के लिए ही है।

Updated: March 16, 2019 — 6:21 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *